ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर अंडर 19 वर्ल्ड कप में चौथी बार विश्वविजेता बना भारत

मो कैफ, विराट कोहली, उन्मुक्त चाँद के बाद अंडर 19 क्रिकेट के इतिहास में एक और नाम जुड़ गया है और वो नाम है वंडर बॉय पृथ्वी शॉ का.पृथ्वी और उनकी टीम ने जबर्दश्त प्रदर्शन करते हुए अंडर 19 वर्ल्ड कप में बिना कोई मैच हारे हुए चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया है.

0
85

नई दिल्ली: मो कैफ, विराट कोहली, उन्मुक्त चाँद के बाद अंडर 19 क्रिकेट के इतिहास में एक और नाम जुड़ गया है और वो नाम है वंडर बॉय पृथ्वी शॉ का. भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर अंडर 19 वर्ल्ड कप जीत लिया है.पृथ्वी और उनकी टीम ने जबर्दश्त प्रदर्शन करते हुए अंडर 19 वर्ल्ड कप में बिना कोई मैच हारे हुए चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया है. शॉ के साथ साथ अगर इस खिताब का श्रेय किसी को जाता है तो वो हैं इस टीम के कोच राहुल द्रविड़. द्रविड़ ने इस टीम को वो सबकुछ दिया जो एक विश्व विजेता टीम में होनी चाहिए. जिस अनुशाशन के लिए द्रविड़ जाने जाते हैं वो इस टीम में देखने को मिलती है.

एक तरफ जहाँ भारत में आईपीएल के लिए खिलाडियों की बोली लग रही थी, राहुल द्रविड़ ने अपने खिलाडियों को इससे  दूर रखा. राहुल द्रविड़ ने अपने खिलाडियों को साफ़ कहा की आईपीएल हर साल आता जाता रहेगा पर यह विश्व कप आपके लिए सिर्फ और सिर्फ एक बार ही है और यही कारन है की क्रिकेट की चकाचौंध से दूर रहकर इन खिलाडियों ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में हर वो किला भेद दिया जो इनके सामने आया. द्रविड़ की इस सेना में खास बात यह रही की हर मैच में अलग अलग खिलाडियों ने अपने प्रदर्शन के दम पर जीत सेनापति द्रविड़ की झोली में दी और यही कारन है की भारत चौथी बार अंडर 19 वर्ल्ड कप में विश्व विजेता बना.

मनजोत ने ठोका दमदार शतक

फाइनल मुकाबले में मनजोत कालरा ने शानदार शतक ठोका. इस सेंचुरी को जमाने के लिए मनजोत ने 101 गेंदों में 8 चौकों और 3 दमदार छक्को की मदद से 100 रन बनाए. वहीं गेंदबाज़ी में भारत की तरफ से कमलेश नगरकोटी, ईशान पोरेल, शिवा सिंह, अनुकूल रॉय ने दो-दो विकेट लिए तो वहीं शिवम मावी ने एक बल्लेबाज़ को आउट किया. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज़्यादा 76 रन मर्लो ने बनाए.

इस तरह गिरे भारत के दो विकेट

भारत को पहला झटका कप्तान पृथ्वी शॉ (29) के रुप में लगा. शॉ को विली सदरलैंड ने बोल्ड कर दिया. 31 रन बनाकर शुभमन गिल ऑस्ट्रेलियाई स्पिन गेंदबाज़ परम उप्पल की फिरकी से फंस कर बोल्ड हो गए और भारत को लगा दूसरा झटका.

इस तरह सिमटी ऑस्ट्रेलिया की पारी

ब्रयांट 14 रन के निजी स्कोर पर तेज़़ गेंदबाज़ ईशान पोरेल की गेंद पर अभिषेक शर्मा के हाथों कैच आउट हुए. इसके बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज एडवर्ड भी 28 रन के निजी स्कोर पर पोरेल का शिकार बने. तीसरा विकेट कप्तान जेसन सांघा (13 रन) का गिरा, जिन्हें नागरकोटी की गेंद पर देसाई ने कैच आउट किया. इसके बाद जे. मर्लो और पी. उप्पल ने पारी संभालने की कोशिश की, लेकिन उप्पल 34 रन के स्कोर पर रॉय की गेंद पर उन्हीं को कैच दे बैठे. 23 रन बनाकर मैकस्वीनी स्पिनर शिवा के हाथों कॉट एंड बोल्ड आउट हो गए और भारत को मिली पांचवीं सफलता. इसके बाद अपने अगले ओवर में शिवा ने विकेटकीपर देसाई के हाथों कैच आउट करवा कर विल सदरलैंड को पवेलियन भेज दिया. इसके बाद 76 रन पर खेल रहे मर्लो ने रॉय की गेंद पर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश की, लेकिन गेंद गई शिवा सिंह के हाथों में और भारत को मिली सातवीं सफलता. अगले ही ओवर की पहली ही गेंद पर नगरकोटी ने इवांस (01) को बोल्ड कर दिया. 13 रन पर खेल रहे होल्ट रन आउट हो गए और भारत को मिली नौवीं सफलता. शिवम मावी ने रेयान हेडली (01) को विकेटकीपर देसाई के हाथों कैच आउट करवाकर कंगारुओं की पारी को समेट दिया.

 

 

LEAVE A REPLY

Print This Post Print This Post