मोदी सरकार ने शिक्षकों को दिया बड़ा तोहफा, लगभग 8 लाख शिक्षकों को मिलेगा दिवाली बोनान्ज़ा और…

0
58

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने अपना समर्थन बढ़ाया और भारत की सबसे बड़े त्योहार, दीवाली से पहले वेतन वृद्धि को मंजूरी दी. लाभार्थी 8,00,000 शिक्षक होंगे. राज्य और केंद्र सरकार द्वारा संचालित विद्यालयों, महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में कार्य करने वाले शिक्षकों को 7 वें वेतन आयोग के तहत वेतन मिलेगा.

एक रिपोर्ट के अनुसार, शिक्षकों को उनके वेतन में 22 से 28 प्रतिशत तक लाभ मिलेगा. वेतन वृद्धि 7 वें वेतन आयोग पर सिफारिश के मद्देनजर ली गई है. इन संस्थानों में शिक्षक दीवाली बोनजजा को 10,000 रुपये से 50,000 रुपये तक मिलेगा.

अनुमोदित वेतनमान 1 जनवरी, 2016 से लागू होंगे. इस माप के लिए वार्षिक केंद्रीय वित्तीय देयता 9800 करोड़ रुपये होगी. वेतन संशोधन के साथ, एक सहायक प्रोफेसर के प्रवेश शुल्क 6,000 रुपये के ग्रेड वेतन के साथ 10,396 रुपये तक बढ़ेगा जबकि एक एसोसिएट प्रोफेसर की 24,000 रुपये की बढ़ोतरी होगी.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, एनएसी न्यूनतम वेतन को 18,000 रुपये से बढ़ाकर 21,000 रुपये करने का सुझाव दे सकता है, 7 वें वेतन आयोग द्वारा अनुशंसित है और कैबिनेट द्वारा अनुमोदित किया गया है.

पिछले साल 7 वें वेतन आयोग ने 14.27 प्रतिशत वृद्धि की सिफारिश की थी, जिसमें मूल वेतन 70 वर्षों में सबसे कम था. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल 28 जून को सिफारिशों को मंजूरी दी थी.

पटाखे की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सुनने के बाद त्योहारों की खुशी कुछ कम हो गयी थी. लेकिन मोदी सरकार की इस कार्यवाही से दिवाली से पहले वेतन बढ़ाने का फैसला कई लोगों को खुश कर देगा. यह उनके कंधे के बोझ को कम भी कर सकता है और बिना चिंता किए दिवाली मनाई जा सकती है.

LEAVE A REPLY

Print This Post Print This Post