आरुषि हत्याकांड में डॉक्टर तलवार दंपति बरी हुए…

0
120

इलाहाबाद उच्च न्यायालय हाई प्रोफाइल केस आरुशी तलवार और हेमराज हत्याकांड में आज अपना निर्णय दे दिया. उत्तर प्रदेश की एक अदालत ने 2013 में आरुषि के माता-पिता राजेश और नुपूर तलवार को सजा सुनाई थी और उन्हें अपनी बेटी और उनकी घरेलू सहायता हेमराज की घातक हत्याओं के लिए ज़िम्मेदार ठहराया था. अब उनको उच्च न्यायालय ने बरी कर दिया है.

aarushi

16 मई, 2008 को, आरुषि, जल वैयु विहार में फ्लैट में अपने बेडरूम में हत्या कर दी गई थी.उसका गला किसी सर्जिकल ब्लेड काट कर उसकी हत्या हुई थी.यह शुरू में संदेह था कि हेमराज ने आरुषि को मार दिया था लेकिन इस मामले में एक चौंकाने वाला मोड़ तब आया जब हेमराज का भी शव उसी ही फ्लैट की छत से दो दिन बाद बारामद किया गया.

Aru

26 नवंबर 2013 को, सीबीआइ ने तलवार दंपति को जन्म कारावास की घोषणा की थी.

पुलिस ने हत्या के पीछे तलवार दंपति की भूमिका पर संदेह किया कि राजेश ने आपत्तिजनक स्थिति में अरुशी और हेमराज को देखने के बाद यह हत्या की थी.तलवार परिवार और उनके दोस्तों ने उनका बचाव में करते हुए कहा कि पुलिस द्वारा लगाए गए आरोपों को फर्जी जांच को कवर करना बताया था.

LEAVE A REPLY

Print This Post Print This Post